शिक्षकों का लंबित 7 मंहगाई भत्ता शीघ्र जारी किया जाए, प्र्रदेश अध्यक्ष व उपाध्यक्ष ने शासन की महंगाई भत्ता देने की मांग

0
37

जांजगीर-चांपा। छत्तीसगढ़ पंचायत ननि शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष संजय शर्मा व प्रदेश उपाध्यक्ष बसंत चतुर्वेदी ने लंबित मंहगाई भत्ता का चार्ट जारी करते हुए सीघ्र लंबित मंहगाई भत्ता का आदेश जारी करने की मांग की है।

संजय शर्मा व बसंत चतुर्वेदी ने बताया कि 1 जुलाई 2016 से 2 प्रतिशत देय, 1 प्रतिशत जनवरी 2017 से 2 प्रतिशत देय, 1 जुलाई 2017 से 1 प्रतिशत देय, 1 जनवरी 2018 से लंबित 2 प्रतिशत देय, 1 जुलाई 2018 से लंबित 2 प्रतिशत और 1 जनवरी 2019 से लंबित 3 प्रतिशत सहित केंद्र सरकार द्वारा घोषित कुल 12 प्रतिशत मंहगाई भत्ता प्राप्त होना चाहिए, पर वर्तमान में छत्तीसगढ़ शासन द्वारा राज्य के कर्मचारियों शिक्षकों को केवल 5 प्रतिशत मंहगाई भत्ता दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार की तुलना में छत्तीसगढ़ में 7 प्रतिशत से कम मंहगाई भत्ता दिया जा रहा है। छत्तीसगढ़ पंचायत ननि शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष संजय शर्मा ने मुख्यमंत्री व मुख्यसचिव से लंबित 7 प्रतिशत मंहगाई भत्ता प्रदान का सीघ्र आदेश जारी करने की मांग की है।

प्रदेश अध्यक्ष संजय शर्मा व प्रदेश उपाध्यक्ष बसंत चतुर्वेदी ने कहा कि पंचायत शिक्षकों का तो 1 जुलाई 2017 से मंहगाई भत्ता छत्तीसगढ़ शासन द्वारा नहीं दिया गया है। एक तरह महंगाई भत्ता पर अघोषित रोक लगा दिया गया है। वर्तमान सरकार से अपेक्षा है कि पंचायत शिक्षकों का तो 1 जुलाई 2017 से 1 जनवरी 2019 तक लंबित 35 प्रतिशत मंहगाई भत्ता का शीघ्र आदेश जारी किया जाए। वहीं कुल 178 प्रतिशत मंहगाई भत्ता (35 प्रतिशत $143 प्रतिशत) का आदेश जारी किया जाए। पंचायत शिक्षकों के लिए 3 प्रतिशत की जगह 7 प्रतिशत जारी किया जाए। उसी मापदंड के अनुसार कुल लंबित की गणना 35 प्रतिशत कर मांग की गई है। कर्मचारियों व शिक्षकों का लंबित 7 प्रतिशत प्रतिशत मंहगाई भत्ता शीघ्र जारी किया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here