शहर से लेकर गांवों तक पानी की समस्या…

0
16

0 कलेक्टर ने पीएचई के ईई को दिए निराकरण के निर्देश

 

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने आज कलेक्टोरेट में आयोजित समय-सीमा बैठक में विभागीय कामकाज की समीक्षा की। उन्होंने जिले में पेयजल सुविधाओं की समीक्षा करते हुए पीएचई के अधिकारी को पेयजल संबंधी समस्याओं पर सतत निगरानी रखने का निर्देश दिया। वहीं किसी भी क्षेत्र में पेयजल की समस्या की सूचना मिलने पर निराकरण के लिए अपने मैदानी अमले को तैयार रखने कहा गया।

आपकों बता दें कि हर साल फरवरी से ही जिले का जलस्तर नीचे जाना प्रारंभ हो जाता है। मार्च के बाद अप्रैल में गांवों से लेकर शहरों तक पानी के लिए त्राहि-त्राहि शुरू हो गई है। हैंडपंप और बोर के हलक सूख गए हैं। लोग सुबह से शाम तक पानी के लिए मशक्कत करने लगे हैं। ऐसे में कलेक्टर का यह निर्देश भी बेअसर है।

इधर, टीएल बैठक में कलेक्टर ने जिला खनिज न्यास मद से स्वीकृत निर्माण कार्यो की प्रगति की नियमित समीक्षा करने के लिए कहा। उन्होंने जिला खनिज अधिकारी को मासिक प्रगति प्रतिवेदन की जानकारी राज्य स्तरीय कार्यालय को नियमित रूप से प्रेषित करने को कहा है।

डॉ. भारतीदासन ने बताया कि नया रायपुर से खरसिया तक नई रेल लाइन का विस्तार किया जा रहा है। रेल लाइन के लिए भू-अधिग्रहण की प्रक्रिया प्रारंभ करने के लिए राजस्व विभाग और रेल विभाग के अधिकारियों को आपसी समन्वय के साथ कार्य करने के निर्देश दिए। बैठक में राजस्व विभाग, स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग के कार्यो की समीक्षा की गई। बैठक में जिला पंचायत सीईओ अजीत वसंत, अपर कलेक्टर डी.के. सिंह, सुखनाथ अहिरवार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here