लक्ष्मी नारायण यज्ञ से प्रारंभ होगा श्री भैरव जयंती महोत्सव

0
126

जांजगीर-चांपा। प्रतिवर्ष होने वाले श्री भैरव जयंती महोत्सव इस बार विशेष रहेंगा। मार्गशीर्ष माह की कृष्ण पक्ष अष्टमी को मनाए जाने वाले श्री भैरव जयंती महोत्सव इस बार देव गुरु बृहस्पति धनु राशि में प्रवेश कर चुकी हैं। यह धर्म के लिए विशेष फलदाई माना जाता है। इसलिए भगवान भैरव जी की जयंती बड़ी धूमधाम से मनाई जाएगी।

17 नवम्बर से 25 नवम्बर तक महा अनुष्ठान लक्ष्मी नारायण यज्ञ में सभी श्रद्धालुओं के सुख शांति समृद्धि ऐश्वर्य प्राप्ति के लिए श्री लक्ष्मी नारायण यज्ञ एवं श्री भैरव सहस्त्रनाम पाठ जाप श्री विष्णु सहस्त्रनाम पाठ श्री सुक्त एवं पुरु सूक्त के द्वारा लक्ष्मी नारायण यज्ञ में आहुति दिए जाएंगे। आदित्य ह्रदय स्त्रोत का पाठ महामृत्युंजय, नवग्रह शांति पाठ, विशेष कल्याणकारी होगी। वैदिक ब्राह्मण इस यज्ञ को संपन्न कराएंगे जो प्रदेश के साथ-साथ अन्य प्रदेश से आचार्य के द्वारा इस महा अनुष्ठान को संपन्न कराएंगे। प्रदेश की खुशहाली के लिए प्रतिवर्ष श्री सिद्ध तंत्र पीठ भैरव बाबा मंदिर रतनपुर में यज्ञ महा अनुष्ठान तंत्र विद्या से किए जाता है। यज्ञ में शामिल होने के लिए मंदिर में आकर संपर्क करें दूर से आए हुए यात्रियों के लिए मंदिर में धर्मशाला एवं भोजन व्यवस्था निशुल्क रहेंगा। वहीं रात्रि में भजन कीर्तन एवं रामलीला का विशेष आयोजन होगा। यह जानकारी मंदिर के प्रबंधक एवं प्रमुख पुजारी पंडित जागेश्वर अवस्थी ने दी। इसके तैयारी में पंडित दिलीप दुबे, महेश्वर पांडेय, राजेन्द्र दुबे, दीपक अवस्थी, कान्हा तिवारी, रवि तम्बोली आदि जुटे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here