पूर्णतः की ओर शहर का गौरवपथ, लगातार खबर प्रकाशन और आंदोलन का दिख रहा असर…

0
150

चांपा। शहर में गौरवपथ का ज्वलंत मुद्दा रहा है। इस पर हमनें लगातार खबर भी प्रकाशित किया। खबरों पर संज्ञान लेते हुए लोग सड़क पर भी उतरे। इसका असर अब दिखने लगा है। गौरवपथ का करीब 80 फीसदी काम पूरा हो गया है, जबकि इस निर्माण की समय-सीमा तीन साल की थी।

आपकों बता दें कि पिछले साल जिला प्रशासन ने बिर्रा रेलवे फाटक को बंद कर भारी वाहनों को शहर के भीतर से दौड़ा दिया, जिसके चलते चमचमाती गौरवपथ की सड़क गड्ढे और कीचड़ में तब्दील हो गई थी। पिछले साल और इस साल की बारिश को शहर के लोगों ने किस तरह गुजारा है वो ही जानते हैं। जबकि बारिश से पहले ही गौरवपथ का नए सिरे से निर्माण कराने टेंडर की प्रक्रिया पूरी कर वर्क आर्डर जारी कर दिया गया था लेकिन प्रशासनिक उदासीनता के चलते काम में गति नहीं आ रही थी। तब हमनें आम लोगों की समस्या को ध्यान में रखते हुए लगातार खबर प्रकाशित किया। इतना ही नहीं, खबरों को ध्यान में रखते हुए सुखसागर माथुर के नेतृत्व में लोगों ने धरना प्रदर्शन भी किया था। मसलन, तीन साल की समय सीमा होने के बावजूद गौरवपथ का निर्माण लगभग 80 प्रतिशत पूरा हो गया है। यदि इसी गति से काम चला तो संभवतः इस माह के अंत तक गौरवपथ का काम पूरा हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here