डूबते सूर्य को अर्ध्य देने उमड़ी भक्तों की भीड़, नैला के रामप्रसाद तालाब और छठ घाट में विशेष पूजा

0
69

जांजगीर-चांपा। सूर्य उपासना का चार दिवसीय महापर्व रविवार तक चला। शनिवार को डूबते हुए सूर्य को अर्ध्य देने भक्तों की भारी भीड़ उमड़ी। जिले भर के नदी तालाबों के घाट में शनिवार की शाम पूजन सामग्री लेकर श्रद्धालु बड़ी संख्या में इकट्ठा हुए थे। विधि विधान से पूजा अर्चना के साथ डूबते हुए सूर्य को अर्ध्य दिया गया।

छठ सेवा समिति नैला जांजगीर द्वारा यहां के रामसागर तालाब में छठ पूजा की विशेष व्यवस्था की गई थी। शाम 4 बजे से ही यहां डूबते सूर्य को अर्ध्य देने समाज के लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। बाजे गाजे के साथ पूजा स्थल का माहौल काफी भक्तिमय रहा। समिति के लोगों ने बताया कि 400 साल बाद इस तरह का संयोग बना है। चांपा के लछनपुर स्थित छठ घाट में शनिवार को डूबते हुए सूर्य को अर्ध्य देने भक्तों की अपार भीड़ उमड़ी। यहां भी बाजे गाजे के साथ श्रद्धालु छठ पूजा में शामिल हुए। यहां शाम से ही लोग छठ पूजा करने शाम से ही छठ घाट पहुंचने लगे थे। सभी ने विधिविधान से पूजा के बाद डूबते सूर्य को अर्ध्य दिया। आपकों बता दें कि सूर्य उपासना के चार दिवसीय महापर्व का समापन रविवार को उगते सूर्य को अर्ध्य देने के साथ हुआ। छठ पूजा को लेकर लोगों में खास आस्था है। नैला में छठ पूजा की तैयारी के दौरान शशिकपूर उपाध्याय, भास्कर सिंह, संतोष भोपालपुरिया, संजय अग्रवाल, संतोष शर्मा, दीपक शर्मा, अनिल उपाध्याय, मीडिया प्रभारी विनोद चौरसिया आदि विशेष रूप से मौजूद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here