गौ संरक्षण के लिए भूख हड़ताल करेंगे गौसेवक, प्रयास गौसेवा संस्थान ने कलेक्टर को ज्ञापन देकर दी चेतावनी…

0
254

जांजगीर-चांपा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का ड्रीम प्रोजेक्ट नरवा, गरवा, घुरवा, बारी का क्रियान्वयन शहरी क्षेत्र में नहीं हो पा रहा है, जिसके चलते सड़कों पर बैठे मवेशी जहां दुर्घटना के शिकार हो रहे हैं तो वहीं इन मवेशियों की वजह से लोगों की भी जान जा रही है। इस गंभीर समस्या का निराकरण करने प्रयास गौसेवा संस्थान ने कलेक्टर को ज्ञापन देकर दस दिनों का अल्टीमेटम दिया है। इसके बाद उन्होंने इस समस्या को लेकर भूख हड़ताल की चेतावनी दी है।


आपकों बता दें कि प्रयास गौसेवा संस्थान विगत 4 वर्षों से गौसेवा के क्षेत्र में कर्मठ गौ सेवकों द्वारा दुर्घटना में घायल गायो का निःशुल्क इलाज के साथ ही गौसेवा के क्षेत्र में अनेक प्रयास किया जा रहा है। जिस तरह आए दिन सड़क पर बैठे मवेशियों के दुर्घटनाग्रस्त होने से चिंतित होकर इस संस्थान ने अब सड़क पर उतरने का मूड बनाया है। उन्होंने अपने ज्ञापन में कहा है कि पूरे चांपा नगर के मुख्यमार्गों व अन्य सभी मार्गो में मवेशियों का जमावड़ा देखने को रोज मिल रहा है जिस कारण प्रतिदिन मवेशी दुर्घटना के शिकार हो रहे हैं। आवेदन में उन्होंने कहा है कि इस ज्वलंत समस्या से जिला प्रशासन, नगर प्रशासन, वरिष्ठ जनप्रतिनिधियों को बार बार अनुनय विनय किया गया लेकिन किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। ऐसे में सभी गौसेवकों व नगर युवाओं ने कलेक्टर सहित अन्य प्रशासनिक अफसरों से मिलकर इस समस्या से अवगत कराते हुए इसके निराकरण की मांग की। उन्होंने जिले सहित चांपा नगर के मुख्यमार्ग व अन्य सभी मार्गों से सभी गायों व मवेशियों को उचित स्थान पर स्थान्तरित कर उनके चारा, पानी व चिकित्सा की उचित व्यवस्था करने की मांग की। उन्होंने मामले में कार्रवाई नहीं होने पर सभी गौसेवक चांपा नगर की जनता के साथ भूख हड़ताल करने की चेतावनी दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here