अंधविश्वास के फेर में गंवाए 5 लाख रुपए, मामले की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपियों को धरदबोचा

0
133

जांजगीर-चांपा। 21वीं सदी में लोग चांद पर पहुंच गए हैं। इसके बावजूद समाज में अंधविश्वास हावी है और इसी अंधविश्वास का फायदा उठाते हुए दीप्ति बिल्डर्स के डायरेक्टर धनीराम बंजारे के घर पूजा-पाठ करने आए कुछ लोगों ने 5 लाख रुपए पार कर दिया। मामले की रिपोर्ट के बाद पुलिस ने सभी आरोपी को धरदबोचा। उनके कब्जे चोरी रकम व घटना में प्रयुक्त मारूति वाहन को जब्त कर लिया गया है।

पुलिस के अनुसार बीते 15 फरवरी को धनीराम बंजारे ने थाने पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई। उसने पुलिस को बताया कि सेंद्रीपाली निवासी मंगलू पटेल और दिलेश्वर गोस्वामी को अपने घर पूजा पाठ करने के लिए बुलाया था। वे मारूति क्रमांक सीजी 10 एफएस 0208 से अपने साथी जानकी बाई व सुनील पटेल के साथ आए। उन्होंने पूजा पाठ करने के बाद पूजा घर में ताला लगाया और पांच दिन बाद कमरे को खोलने के बात कहकर वे चले गए। उनके जाने के बाद धनीराम बंजारे को शंका हुआ, तब उसने पूजा कमरे को खोलकर देखा तो दीवान में रखे 5 लाख रुपए नगद गायब था। उसने अपने दोस्त अनिल अजगल्ले के साथ उनकी खोजबीन की, लेकिन उनका कहीं कोई पता नहीं चला। इसके बाद उसने थाना पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने साइबर सेल के जरिए आरोपियों का लोकेशन ट्रेस किया और सक्ती क्षेत्र के ग्र्राम सरजुनी जाकर आरोपियों को धरदबोचा। पुलिस ने सभी आरोपियों को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है।

आरक्षक की रही भूमिका
इस मामले की कार्रवाई में खास बात यह रही कि दीप्ति बिल्डर्स में हुई वारदात की सूचना मिलते ही जांजगीर थाना में पदस्थ आरक्षक अनिल अजगले तुरंत मौके पर पहुंच गए। उन्होंने अवकाश में रहने के बावजूद आरोपियों को पकड़ने में जांजगीर पुलिस के साथ अहम भूमिका निभाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here